Thursday, September 1, 2011

सांप्रदायि‍क समभाव पर गीतों के साथ कुछ बातें

ईद, तीज और गणेश चतुर्थी का अनोखा संगम...... 

  













ईद और तीज  का त्‍योहार एक ही दि‍न 1432 सालों बाद 30 अगस्‍त 2011 को पड़ा.....
इस अवसर पर सांप्रदायि‍क समभाव को आधार बनाकर हमने गीतों को शामि‍ल करते हुए आकाशवाणी बि‍लासपुर से एक कार्यक्रम प्रस्‍तुत कि‍या..... 

प्रस्‍तुति‍ सुप्रि‍या और संज्ञा






2 comments:

  1. अच्‍छी प्रस्‍तुति..........
    ईद और तीज के बरसों बाद एक साथ पडने की जानकारी के लिए भी आभार....

    ReplyDelete